लवलीना बोर्गोहैन जीवन परिचय | Lovlina Borgohain Biography in Hindi

लवलीना बोर्गोहैन जीवन परिचय (Lovlina Borgohain Biography in Hindi) , टोक्यो ओलिंपिक मैं भारत को ब्रोंज पदक,2018 मैं AIBA वीमेन वर्ल्ड चैंपियनशिप मैं ब्रोंज पदक,2019 मैं AIBA वीमेन वर्ल्ड चैंपियनशिप मैं ब्रोंज पदक , दिल्ली मैं आयोजित हुए 1st इंडियन ओपन इंटरनेशनल बॉक्सिंग टूर्नामेंट मैं स्वर्ण पदक हासिल कर चुकी हैं |

लवलीना बोर्गोहैन जो की भारत की एक प्रतिभाशील बॉक्सर हैं , इन्होने हाल ही मैं चल रहे 2020 के टोक्यो ओलिंपिक मैं ब्रोंज मैडल भारत के नाम किया जो की पहला ओलिंपिक एटेम्पट मैं उन्होंने ये अपने अच्छे प्रदर्शन से ये उपलब्धि हासिल की | इसको देखते हुए यह लवलीना का बुरा प्रदर्शन नहीं था जिसने देश के लिए अपनी पहली ओलंपिक स्पर्धा में कांस्य पदक हासिल किया। भारत ने नौ साल बाद मुक्केबाजी में ओलंपिक में कांस्य पदक अर्जित किया |

प्रतिभाशील लवलीना बोर्गोहैन जीवन परिचय

नाम Nameलवलीना बोर्गोहैन
पूरा नाम Full Name लवलीना बोर्गोहैन
जन्म तारीक Date of Birth 2 अक्टूबर 1997
उम्र Age 23
वासी Residence गोलाघाट ,असम ,भारत
नागरिकता Nationality भारतीय
माता -पिता father- mothermamonii बोर्गोहैन , टिकें
मैरिटल स्टेटस Marital Statusअविवाहित
पेशा Occuption महिला बॉक्सर
खेल Game बॉक्सिंग
वर्ग Category69 kg
शारीरिक बनावट Physical Status फिट
लम्बाई Hight 5 फुट 10 इंच
रंग Colourगोरा
कोच Coachपदम् बोरो,शिव सिंह
वजन Weight69 kg
स्कूल schoolबरपटाह गर्ल्स हाई स्कूल
कुल मैडल Total Medal4
बहने Siblingsलीचा , लिमा
बॉयफ्रेंड Boyfriendनहीं

लवलीना बोर्गोहैन कांस्य पदक | Lovlina Borgohain’s Bronze Medal in Tokyo Olympic 2020

लवलीना बोर्गोहैन जिन्होंने अपनी काबिलियत से (69 किग्रा) ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में कांस्य पदक जीता क्योंकि वह टोक्यो ओलंपिक 2020 के सेमीफाइनल में मौजूदा विश्व चैंपियन तुर्की की बुसेनाज सुरमेनेली से हार गईं गयी जिसके चलते वह फाइनल मैं प्रवेश न हो सकी।

लवलीना विजेंदर सिंह (2008) और एम सी मैरी कॉम (2012) के बाद शोपीस में पोडियम फिनिश सुनिश्चित करने वाली तीसरी भारतीय मुक्केबाज बन गई हैं। लवलीना ने पहले महिलाओं के वेल्टरवेट क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लिए चिनेरे ताइपे की निएन-चिन चेन को हराया था

लवलीना बोर्गोहैन का जन्म (Date Of Birth)

लवलीना बोर्गोहैन का जन्म 2 अक्टूबर 1997 को असम के गोलाघाट डिस्ट्रिक्ट मैं हुआ | इसके मुताबिक उनकी उम्र 23 साल है और वह 2 अक्टूबर को 24 वर्ष की हो जाएँगी |

एक दिन जब लवलीना बोर्गोहैन के स्कूल मैं दी स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया द्वारा बॉक्सिंग का ट्रायल रखा गया तो लवलीना जी ने भी उस ट्रायल मैं भाग लिया , जिसमे उनके अंदर हुनर को पहचाना और कोच पदुम बोरो और कोच अभिषेक मालवीया ने इनको सेलेक्ट किया और बॉक्सिंग की बेसिक्स सीखने के लिए उनको 2012 मैं SAI STC गुवाहाटी को कहा |

लवलीना बोर्गोहैन परिवार (Family)

लवलीना बोर्गोहैन की दो बड़ी बेहेने लीचा और लिमा ने भी नेशनल लेवल पर किकबॉक्सिंग की , लेकिन आगे उस प्रतिभा को न बढ़ा सकी न निखार सकी | लवलीना ने खुद अपने करियर की शुरुवात किकबॉक्सिंग से की लेकिन बाद मैं उन्होंने बॉक्सिंग मैं जाना सही समझा क्युकी बॉक्सिंग मैं उनको अपना टैलेंट दिखने सिखने का निखारने का ज़ादा मौके नज़र आरहे थे |

उनके पिता टिकें एक छोटा व्यापार करके अपने परिवार का मुश्किलों से जीवनयापन करते हैं जिसके कारन वह अपनी पुत्री लवलीना को सपोर्ट नहीं कर पाते थे |

लवलीना बोर्गोहैन वर्ल्ड रिकार्ड्स (Lovlina Borgohain World Records)

2018 एआईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप

इन्होने 23 नवंबर 2018 को वेल्टरवेट 69 किलोग्राम श्रेणी मैं AIBA Women’s World Boxing Championship जो की दिल्ली मैं आयोजित हुआ था मैं कांस्य पदक जीता था |

2019 AIBA महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप

लवलीना बोर्गोहैन अपने दूसरे Women’s World Boxing Championships (2019) जो की रूस के उलान शहर मैं आयोजित हुआ था उसके लिए चुनी गई , लेकिन यहाँ उनको कांस्य पदक से हे संतुस्ट रहना पड़ा क्युकी वह सेमीफइनल मैं चीन की यांग लिउ 69 किलोग्राम श्रेणी मैं हर चुकी थी |

2020 एशिया और ओशिनिया बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट

लवलीना बोर्गोहैन को मार्च 2020 मैं आयोजित  2020 Asia & Oceania Boxing Olympic Qualification Tournament. के 69 किलोग्राम श्रेणी मैं उज़्बेकिस्तान की मुफतुनाखों मेलिएवा को हरा कर ओलंपिक्स मैं अपनी जगह पक्की करी |

ये असम स्टेट से ओलिंपिक के लिए चुनी जाने वाली एक मात्र महिला हैं |

2020 टोक्यो ओलंपिक

लवलीना बोर्गोहैन ने हाल हे मैं चल रहे टोक्यो ओलंपिक्स जो की जापान के शहर टोक्यो मैं आयोजित किये जा रहे हैं , मैं उन्होने कांस्य पदक अपने नाम किया और अपना और अपने देश का नाम रोशन किया |

इस सफलता को श्रेय देते हुए और शाबाशी देते हुए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदीजी ने खुद ट्विटर पर ट्वीट करके उनके सफलता की सराहना की और उनका शुक्रिया भी किया देश के नाम मैडल जीतने क लिए |

पुरस्कार और सम्मान

राष्ट्रियपति राम नाथ कोवित द्वारा लवलीना बोर्गोहैन की बॉक्सिंग मैं उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए अर्जुन पुरूस्कार से 2020 मैं सम्मानित किया गया |

लवलीना बोरगोहेन सोशल मीडिया ke links

Lovlina Borgohain InstagramClick Here
Lovlina Borgohain FacebookClick Here
Lovlina Borgohain TwitterClick Here

Related Biography:

रवि दहिया (Ravi Dahiya)

बजरंग पुनिया (Bajrang Punia)

मीरा बाई चानू (Mirabai Chanu)

नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra)

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page